Hindi
Tuesday 27th of June 2017
code: 80811
अमरीका के बाद यूरोप में इस्लामोफ़ोबिया, हिजाब पहने महिला पर उछाली शराब।

अहलेबैत न्यूज़ एजेंसी अबना: रिपोर्ट के अनुसार कुछ समय से अमरीका और यूरोपीय देशों में मुसलमानों के विरुद्ध जनता में नफ़रत इतनी अधिक बढ़ गई है कि हाल ही में मुसलमानों के साथ भेदभाव, घृणा और पक्षपात के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र में एक प्रस्ताव पारित किया गया, जिसमें पश्चिमी देशों में मुसलमानों के खिलाफ लगातार बढ़ते अपमानजनक व्यवहार का मुकाबला करने की आवश्यकता पर बल दिया गया।
ताजा घटना में कम्युनिकेशन कंसल्टंट महपारा ख़ान अपने दोस्तों के साथ ऑक्लेंड वापस आ रही थीं कि रास्ते में एक जगह आराम करने के लिए रुकीं इसी बीच रेस्ट रूम से निकलने वाली स्थानीय महिला ने अचानक आकर उन पर चीख़ना चिल्लाना शुरू कर दिया उसने न सिर्फ़ मुसलमानों को बुरा भला कहा बल्कि शराब से भरा केन भी उन पर उछाल दिया।
ध्यान रहे कि मुसलमानों के सभी फ़िरक़ों में शराब हराम और नापाक है। दुनिया भर के मुसलमान इससे इतनी घृणा करते हैं कि उनके लिए इसे छूना भी गुनाह है। मुस्लिम महिला ने वीडियो बना कर पुलिस को रिपोर्ट करा दी है पुलिस का कहना है कि शिकायत की समीक्षा का जा रही है।
ज्ञात रहे कि अमरीका और यूरोपीय देशों में मुस्लिम जाति के साथ पक्षपाती सुलूक पढ़ता जा रहा है। अमेरिका जांच एजेंसी एफबीआई की रिपोर्ट के अनुसार, अमरीका में मुसलमानों के खिलाफ हमलों में 67 प्रतिशत वृद्धि हुई है। जबकि कुल मिलाकर अल्पसंख्यकों के खिलाफ नफरत में 7 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
याद रहे कि नवंबर 2016 में इटली में एक मुस्लिम महिला पर हिजाब करने की सज़ा में 30 हज़ार यूरो का जुर्माना लगा दिया गया था। इसी तरह जुलाई 2016 में स्विट्ज़रलैंड के टचीनू क्षेत्र में एक मुसलमान महिला पर हिजाब पहनने पर पाबंदी लगा दी गई थी जिसका उल्लंघन करने की सूरत में 11 हजार डॉलर जुर्माने का कानून लागू कर दिया गया।

user comment
 

latest article

  विश्व क़ुद्स दिवस, सुप्रीम लीडर हज़रत ...
  यमन पर आले सऊद की बर्बरता में सुरक्षा ...
  बच्चों के सामने वाइफ की बुराई।
  ईरान से भयभीत सऊदी अरब को इस्राईल की मदद ...
  आतंकवाद की मदद करने वालों को ही करना ...
  बच्चों के लड़ाई झगड़े को कैसे कंट्रोल ...
  रोहिंगया मुसलमानों के नमाज़ पढ़ने पर भी ...
  सऊदी अधिकारियों ने दिया 14 अन्य शिया ...
  आयतुल्लाह ईसा क़ासिम पर हमले को लेकर ...
  बहरैन में शेख़ ईसा क़ासिम के घर पर आले ...