Hindi
Sunday 25th of June 2017
code: 80852
मूसेल में इराक़ी सेना की बढ़त जारी।

इराक़ की सेना और स्वयं सेवी बल के जवानों ने दाइश के विरुद्ध संयुक्त कार्यवाही जारी रखते हुए पश्चिमी मूसिल के विभिन्न क्षेत्रों को आतंकियों के नियंत्रण से स्वतंत्र करा लिया है।
सैन्य सूत्रों के अनुसार, इराक़ की फ़ेडरल पुलिस के जवान शुक्रवार की दोपहर पश्चिमी मूसिल के क्षेत्रों नबी शीस और अकीदात में प्रविष्ट हो गये और दाइश के आतंकियों को फ़रार होने पर विवश कर दिया।
नैनवा प्रांत के आप्रेशनल कमान्डर मेजर जनरल अब्दुल अमीर यारल्लाह ने अपने एक बयान में कहा कि उक्त दोनों क्षेत्रों की महत्वपूर्ण सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज फहरा दिया गया है और आतंकवादी वहां से भाग खड़े हुए हैं।
दूसरी ओर इराक़ के आतंकवादी निरोधक दल के कमान्डर मेजर जनरल साद मअन ने पश्चिमी मूसिल में दाइश के साथ भीषण झड़पों की सूचना दी है। उनका कहना था कि पश्चिमी मूसिल में दाइश के अंतिम ठिकाने को ख़ाली कराने के उद्देश्य से आतंकवाद निरोधक दल के जवान पूरी शक्ति के साथ आप्रेशन कर रहे हैं।
उनका कहना था कि इराक़ी सेना के जवान अब मूसिल के प्राचीन क्षेत्र के द्वार तक पहुंच गये हैं जहां हमें तंग गलियों और रास्तों का सामना है इसीलिए इस क्षेत्र में आतंकवादियों के साथ भीषण लड़ाई की आशंका है।
उधर इराक़ के रक्षामंत्री ने कहा है कि दाइश को मूसिल में भीषण पराजय का सामना है और इसके लिए मूसिल में अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में बाक़ी रहना असंभव होगा। इराक़ के रक्षामंत्री इरफ़ान अलहयाली ने मूसिल के दौरे के अवसर पर पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि सुरक्षा बलों के साथ मूसिल की जनता के सहयोग के परिणाम में दाशइ तबाही के निकट है।
ज्ञात रहे कि सुरक्षा बलों ने पश्चिमी मूसिल की स्वतंत्रता के लिए आप्रेशन 19 फ़रवरी से आरंभ किया था जिसके दौरान पश्चिमी मूसिल के एक बड़े क्षेत्र को आतंकवादी गुटों के नियंत्रण से स्वतंत्र करा लिया गया है।

user comment
 

latest article

  विश्व क़ुद्स दिवस, सुप्रीम लीडर हज़रत ...
  यमन पर आले सऊद की बर्बरता में सुरक्षा ...
  बच्चों के सामने वाइफ की बुराई।
  ईरान से भयभीत सऊदी अरब को इस्राईल की मदद ...
  आतंकवाद की मदद करने वालों को ही करना ...
  बच्चों के लड़ाई झगड़े को कैसे कंट्रोल ...
  रोहिंगया मुसलमानों के नमाज़ पढ़ने पर भी ...
  सऊदी अधिकारियों ने दिया 14 अन्य शिया ...
  आयतुल्लाह ईसा क़ासिम पर हमले को लेकर ...
  बहरैन में शेख़ ईसा क़ासिम के घर पर आले ...