Hindi
Monday 23rd of October 2017
code: 81101
इराक़ी बल का साहस और बलिदान सराहनीय है।

इराक़ के वरिष्ठ धर्मगुरू ने कहा है कि इराक़ी बलों ने पूरे देश को गौरवान्वित किया है।
आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली सीस्तानी ने ईरान के एक वरिष्ठ धर्मगुरू आयतुल्लाह साफ़ी गुलपायगानी को लिखे गए पत्र में कहा है कि इराक़ी बलों ने जिस साहस और बलिदान का प्रदर्शन किया है वह बहुत अधिक सराहनीय है। मूसिल नगर को दाइश के आतंकियों के चंगुल से मुक्त कराए जाने पर आयतुल्लाह साफ़ी गुलपायगानी की ओर से आयतुल्लाह सीस्तानी को लिखे गए बधाई के पत्र के जवाब में उन्होंने कहा है कि पिछले तीन साल में इराक़ी बलों और जनता ने आतंकी गुट दाइश के मुक़ाबले में जिस साहस, त्याग और बलिदान का प्रदर्शन किया है वह सराहनीय है।
ज्ञात रहे कि आयतुल्लाह सीस्तानी के जेहाद के फ़तवे के बाद इराक़ में स्वयं सेवी बल का गठन हुआ था जिसने अन्य इराक़ी बलों के साथ मिल कर देश के विभिन्न क्षेत्रों से दाइश को खदेड़ दिया है। दाइश ने जून 2014 में मूसिल जैसे अहम शहर पर क़ब्ज़ा कर लिया था लेकिन लगभग दो सप्ताह 10 जुलाई को इराक़ी बलों ने इस नगर को, जिसे दाइश अपनी राजधानी बताता था, दाइश के आतंकियों के चंगुल से मुक्त करा लिया जिस पर दुनिया भर से इराक़ी बलों की सराहना की जा रही है।

user comment
 

latest article

  अल-मयादीन में आईएस के पास से अमेरिकी और ...
  गुनाह से बचना।
  सीरियन सेना ने बनाया आतंकियों के मिसाईल ...
  हिज़बुल्लाह के दो कमाँडर की गिरफ़्तारी ...
  सीरिया, तीन आत्मघाती हमलावरों ने ख़ुद को ...
  दाइश एक कैंसर है जो लेबनान में पलटने के ...
  यमन पर आले सऊद की बमबारी, 12 नागरिकों की मौत
  नजफ़ अशरफ़ पर हमले की साज़िश नाकाम।
  आईएस आतंकवाद को समाप्त करने में अमेरिका ...
  सय्यद हसन नसरुल्लाह के भाषण से विश्व में ...