Hindi
Tuesday 21st of November 2017
code: 80873
रजब का चाँद के दिखाई देते ही ईरान और भारत सहित विश्व भर में खुशी का माहौल।

स्लामी कैलेंडर में से इबादत के महीने रजब के चाँद के दिखाई देते ही ईरान और भारत सहित विश्व भर में खुशी का माहौल दिखाई देने लगा है और लोग एक दूसरे को इस मुबारक महीने के आने पर और इस महीने की पहली तारीख़ को शियों के पाँचवें इमाम मुहम्मद बाक़िर अलैहिस्सलाम की विलादत की मुबारकबाद दे रहे हैं
रजब महीने के आगमन पर ईरान के सभी छोटे, बड़े शहरों की मस्जिदों और इमामबाड़ों में सजावट, जश्न इबादत और दुआ के प्रोग्राम शुरू हो गए हैं हर ओर रौशनी और सजावट की गई है।
पहली रजब को इमाम मुहम्मद बाक़िर अ. की विलादत का दिन भी है आप पहली रजब सन् 57 हिजरी क़मरी को मदीना शहर में पैदा हुए आप की विलादत और रजब के आगमन का जश्न मशहद में इमाम रज़ा अ. को रौज़े में और क़ुम शहर में स्थित हज़रत मासूमा स. के रौज़े में जारी हैं इसके अतिरिक्त विभिन्न शहरों की मस्जिदों और इमामबाड़ों में भी ख़ुशियाँ मनाई जा रही हैं।

user comment
 

latest article

  ईरान में रसूल स. और नवासए रसूल स. के ग़म में ...
  इमाम हसन(अ)की संधि की शर्तें
  पैग़म्बरे इस्लाम (स.) के वालदैन
  हज़रत इमाम हसन अलैहिस्सलाम
  हज़रत इमाम हसन अलैहिस्सलाम का जीवन परिचय
  इमाम हसन (अ) के दान देने और क्षमा करने की ...
  पैगम्बरे इस्लाम हज़रत मोहम्मद (स.अ:व:व) का ...
  ईरान में श्रद्धा पूर्वक मनाया गया इमाम ...
  विश्व की सबसे लंबी नमाज़े जमाअत नजफ़ से ...
  शांतिपूर्वक रवां दवां अरबईन मिलियन मार्च