Hindi
Thursday 25th of May 2017
code: 80971
अल अवामिया पर सऊदी आतंकवाद जारी, संयुक्त राष्ट्र मूकदर्शक।

अबनाः यह पहला मौका नहीं है जब सऊदी अरब ने झूठा आरोप लगाकर निर्दोष लोगों को निशाना बनाया है बल्कि अब तो सऊदी सुरक्षा बलों का यह प्रतिदिन का काम है।
कई दिन पहले शिया बहुल सऊदी शहर अल-अवामिया में सुरक्षा बलों ने हमला किया और कई लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया, सुरक्षा बलों की ओर से फायरिंग और इसके नतीजे में दो निर्दोष लोगों की हत्या और कई अन्य लोगों के घायल होने की सूचना मिली हैं।
सऊदी अरब के बर्बर और आपराधिक अपराधों को इस्राईली अपराध से संज्ञा दी जा सकती है जो निहत्थे फिलिस्तीनियों पर अत्याचार ढा रहा है यही हाल सऊदी और बहरैन में है जहां निर्दोष जनता पर जुल्म ढाए जा रहे हैं।
यह पहला मौका नहीं है जब सऊदी ने झूठा आरोप लगाकर निर्दोष लोगों को निशाना बनाया है। सऊदी अरब और आले खलीफा के अपराधों पर विश्व समुदाय की चुप्पी न केवल अपराध हैं, बल्कि अत्यंत निंदनीय भी है।


user comment
 

latest article

  ईरान मुसलमानों और इस्लाम का दुश्मन नहीं ...
  हिम्स शहर से आतंकवादियों का पूरा सफाया।
  ट्रम्प के स्वागत पर करोड़ो डॉलर खर्च ...
  सऊदी अरब और क़तर बिगाड़ रहे हैं इस्लाम का ...
  दुनिया की टॉप २० फौजों में शामिल है ईरान ...
  ब्रिटेन ने रूस को बताया सीरिया में ...
  इस्राईल रच रहा है बश्शार असद की हत्या का ...
  सऊदी अरब ने लगाया ईरान पर निराधार आरोप।
  अल अवामिया पर सऊदी आतंकवाद जारी, संयुक्त ...
  मिस्रः आतंकवादियों के हमले में दो ...