Hindi
Friday 23rd of February 2024
0
نفر 0

दुबई पर पड़ सकता है क़तर संकट असर।

अबनाः फ़ार्स खाड़ी के अरब देशों के बीच हालिया संकट के चलते संयुक्त अरब इमारात के सबसे अधिक आबादी वाले शहर दुबई में बिजली का संकट उत्पन्न हो सकता है और इस शहर में स्थित गगनचुंबी इमारतों की बिजली गुल हो सकती है।
ग़ौरतलब है कि क़तर समुद्र में बिछी 364 किलोमीटर लम्बी पाइपलाईन द्वारा प्रतिदिन संयुक्त अरब इमारात और ओमान को 2 अरब घन फ़ीट प्राकृतिक गैस निर्यात करता है।
यह गैस क़तर के उत्तरी गैस फ़ील्ड से संयुक्त अरब इमारात की राजधानी अबू-धाबी में स्थित तवीलाह टर्मिनल के लिए भेजी जाती है
क़तर और फ़ार्स खाड़ी के अन्य अरब देशों के बीच हालिया संकट के उत्पन्न होने और इमारात की ओर से दोहा पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद, क़तर ने अभी तक इमारात को गैस का निर्यात बंद नहीं किया है।
हालांकि क़तर पर कड़े प्रतिबंध लगाने और इमारात द्वारा अपनी वायु, जल एवं ज़मीनी सीमाओं को क़तर के लिए बंद करने के बाद, दोहा ने इस प्रकार का इशारा दिया है कि वह अबू-धाबी को गैस की आपूर्ति बंद कर सकता है।

0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

क़ुरआन के मराकिज़
दुबई पर पड़ सकता है क़तर संकट असर।
मस्जिद या ईदगाह के अंदर नमाज़ पढ़े ...
सीरिया में सऊदी अरब की दम तोड़ती ...
इराक़ में आयतुल्लाह सीस्तानी के ...
विश्व मज़दूस दिवसः सो जाते हैं ...
आतंकवाद का मुकाबला शिक्षा के बिना ...
कैराना में बीजेपी को हरा साँसद ...
हम इस्राइल की धमकियों से नहीं ...
पादरी जो मुसलमान हो गया

 
user comment