Hindi
Sunday 21st of July 2024
0
نفر 0

सीरियाः फूआ और कफरिया में सैंकड़ों शीआ मुसलमान आतंकवादियों के घेरे में

सीरिया के फूआ और कफरिया नामक क्षेत्रों में तकफीरी आतंकवादी, 80 दिनों से शीआ मुसलमानों की घेराबंदी के बाद अब उन पर व्यापक आक्रमण की तैयारी में हैं। इन दोनों बस्तियों में शीआ मुसलमान रहते हैं और 80 दिनों के दौरान अभी तक अन्नुस्रा फ्रंट के आतंकवादी इन दोनों बस्तियों में घुसने में सफल नहीं हो पाए हैं किंतु अब वह व्यापक हमले की तैयारी कर रहे हैं जिसके बाद इन बस्तियों के लोगों ने विश्व समुदाय से सहायता की अपील की है।
सीरियाः फूआ और कफरिया में सैंकड़ों शीआ मुसलमान आतंकवादियों के घेरे में

 सीरिया के फूआ और कफरिया नामक क्षेत्रों में तकफीरी आतंकवादी, 80 दिनों से शीआ मुसलमानों की घेराबंदी के बाद अब उन पर व्यापक आक्रमण की तैयारी में हैं।
 
 
 
      इन दोनों बस्तियों में शीआ मुसलमान रहते हैं और 80 दिनों के दौरान अभी तक अन्नुस्रा फ्रंट के आतंकवादी इन दोनों बस्तियों में घुसने में सफल नहीं हो पाए हैं किंतु अब वह व्यापक हमले की तैयारी कर रहे हैं जिसके बाद इन बस्तियों  के लोगों ने विश्व समुदाय से सहायता की अपील की है।
 
 
 
      
 
     सीरिया से प्राप्त समाचारों के अनुसार, अन्नुस्रा फ्रंट के आतंकवादी, बस्तियों में प्रवेश में नाकामी के बाद पागलों की भांति इन बस्तियों पर मार्टर गोले बरसा रहे हैं जिसके कारण हर दिन कई लोग मारे जाते हैं।
 
 
 
     सीरिया के अरीहा नगर पर आतंकवादियों के क़ब्ज़े के बाद इन दो बस्तियों की घेराबंदी कर ली गयी और गत 80 दिनों से बाहरी दुनिया से इन दोनों बस्तियों का संपर्क लगभग कट गया है।
 
 
 
      अनुस्स्रा फ्रंट के आतंकवादी अभी इन बस्तियों के टेलीफोन एक्सचेंज के तबाह नहीं कर पाए हैं जिसके कारण कठिनाई से ही सही किंतु इन्टरनेट और फोन द्वारा इन लोगों का संपर्क बाहरी दुनिया से बना हुआ है।
 
 
 
     सीरियाई सेना, हेलीकाप्टरों से इन बस्तियों में कभी कभी खाद्य सामाग्री और दवाएं गिराती हैं किंतु अरीहा पर आतंकवादियों के क़ब्ज़े के बाद यह काम अत्याधिक कठिन हो गया है क्योंकि हेलीकाप्टरों पर अन्नुस्रा फ्रंट के सदस्य भारी गोलाबारी करते हैं जिसके कारण सीरियाई सेना के हेलीकाप्टर सही जगह पर सामान गिरा नहीं पाते।
 
 
 
       फूआ और कफरिया से प्राप्त समाचारों के अनुसार अन्नुस्रा फ्रंट के आतंकवादियों का दबाव बढ़ता जा रहा है और इन बस्तियों पर कभी भी उनका क़ब्ज़ा हो सकता है जिसके बाद सीरिया में एक अन्य व्यापक जनसंहार होने की आशंका है।(Q.A.)


source : irib.ir
0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

रोहिंग्या के नन्हे मोहम्मद ने ...
इराक़ के सुन्नी क़बीलों ने ईरान ...
सीरिया में चार रूसी सैनिकों की ...
भारत, इस्लामाबाद के सार्क शिखर ...
वहाबी प्रचारक ने दी सऊदी अरब के ...
अफ़ग़ानी सेना की कार्यवाही में ...
क्षेत्र में अशांति का कारण सऊदी ...
नामीबिया में पवित्र कुरान का ...
उड़ीसा के अस्पताल में 2 हफ़्ते में ...
यमन ने जवाबी हमले में दो सऊदी ...

 
user comment