Hindi
Thursday 18th of April 2024
0
نفر 0

अमेरिका अपने रचाए षणयंत्रों में सफ़ल नहीं हो पाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रतिरोधी आंदोलन हिज़्बुल्लाह की कार्यकारी परिषद् के उपाध्यक्ष शैख़ अली दामूश का कहना है कि प्रतिरोधी आंदोलन की सफलता के बाद क्षेत्र एक नए युग में प्रवेश कर चुका है । शैख़ अली ने कहा कि क्षेत्र में प्रतिरोधी आंदोलन की सफलता तथा सीरिया , इराक और लेबनान में अमेरिकी - ज़ायोनी गठबंधन के षड्यंत्रों की विफलता के बाद मिडिल ईस्ट एक नए युग में प्रवेश कर गया है । उन्होंने कहा कि अमेरिका और ज़ायोनी लॉबी आले सऊद के सहयोग से अवैध राष्ट्र इस्राईल और अरब देशों के संबंध सामान्य कर इस गठबंधन को ईरान और प्रतिरोधी आंदोलनों के मुकाबले मे लाने के लिए प्रयत्नशील हैं । उन्होंने हिज़्बुल्लाह और ईरान की शक्ति का उल्लेख करते हुए कह कि दुश्मनों को किसी षड्यंत्र में सफलता नहीं मिलेगी तथा वह अपने उद्देश्यों में विफल रहेंगे ।

0
0% (نفر 0)
 
نظر شما در مورد این مطلب ؟
 
امتیاز شما به این مطلب ؟
اشتراک گذاری در شبکه های اجتماعی:

latest article

क़ुरआन की फेरबदल से सुरक्षा
पश्चाताप तत्काल अनिवार्य है 3
आह, एक लाभदायक पश्चातापी 2
पापी और पश्चाताप की आशा
इमाम जवाद अलैहिस्सलाम का शुभ ...
हदीसो के उजाले मे पश्चाताप 9
ईरानी खुफ़िया एजेंसी ने आतंकी ...
इस्लाम में पड़ोसी के अधिकार
शबे कद़र के मुखतसर आमाल
आशीषो मे फिजूलखर्ची अपव्यय है 3

 
user comment